जानिए बीएससी माइक्रोबायोलॉजी क्या है? (BSc Microbiology Kya Hai In Hindi)

Telegram Group (Join Now) Join Now
WhatsApp channel (Join Now) Join Now

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी क्या है (BSc Microbiology Kya Hai In Hindi) | बीएससी माइक्रोबायोलॉजी के लिए योग्यता | बीएससी माइक्रोबायोलॉजी एंट्रेंस एग्जाम | बीएससी माइक्रोबायोलॉजी कोर्स फीस की पूरी जानकारी

दुनिया में आजकल हर जगह माइक्रोबायोलॉजी का उपयोग हो रहा है, इस कारण इस क्षेत्र में कैरियर की मांग भी बढ रही है। माइक्रोबायोलॉजी में सूक्ष्म जीवों पर अध्ययन किया जाता है और इसके मानव जीवन पर क्या असर पड़ता है इसके बारे में बताया जाता है।

अगर आप भी इसी फील्ड में अपना कैरियर बनाने की सोच रहे है तो आप बीएससी माइक्रोबायोलॉजी कर सकते है।

इस आर्टिकल में हम आपको BSc Microbiology Kya Hai और इसके बारे में विस्तार से जानकारी देंगे।

इसी के साथ हम आपको BSc Microbiology Course Kaise Kare, BSc Microbiology Colleges, BSc Microbiology Syllabus आदि के बारे में भी बताएंगे।

जानिए बीएससी माइक्रोबायोलॉजी क्या है (BSc Microbiology Kya Hai In Hindi)
Content Headings show

BSc Microbiology Kya Hai In Hindi | बीएससी माइक्रोबायोलॉजी क्या है?

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी 3 साल का एक अंडर ग्रेजुएट कोर्स होता है और यह कोर्स 6 सेमेस्टर का होता है, जो 12वीं के बाद कर सकते है।

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी में सूक्ष्म जीवों से संबंधित नॉलेज का अध्ययन कराया जाता है और मानव शरीर पर इसके प्रभाव के बारे में भी बताया जाता है तथा यह कोर्स जीव विज्ञान में आता है।

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी में स्टूडेंट को वायरस, बैक्टीरिया, प्रोटोजोआ, फंगी, कवक आदि जैसे सूक्ष्म जीव के बारे में अध्ययन कराया जाता है।

अब तक आप जान गए होंगे के BSc Microbiology Kya Hota Hai? अब हम आपको BSc Microbiology Course Kaise Kare इसके बारे में भी बताएंगे।

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी के लिए योग्यता

अगर आप भी बीएससी माइक्रोबायोलॉजी कोर्स करना चाहते हैं तथा इसमें आगे अपना अच्छा करियर बनाना चाहते हैं तो पहले इसकी योग्यता के बारे में जान ले।

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी के लिए एडमिशन कराने के लिए आपके अंदर निम्नलिखित योग्यता होना आवश्यक है।

  • बीएससी माइक्रोबायोलॉजी करने के लिए सबसे जरूरी यह है कि आपने 12वीं कक्षा में फिजिक्स केमिस्ट्री और बायोलॉजी विषय चुना हो और इसकी पढ़ाई की हो।
  • आपके 12वीं कक्षा में कम से कम 55% मार्क्स होना अनिवार्य है और इससे ज्यादा हो तो और भी अच्छा होगा।
  • अगर आप माइक्रोबायोलॉजी में पोस्ट ग्रेजुएशन करना चाहते हैं तो आपके पास बीएससी माइक्रोबायोलॉजी में बैचलर डिग्री होना आवश्यक है।

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी एंट्रेंस एग्जाम

अगर आप किसी बड़े और प्रसिद्ध कॉलेज या यूनिवर्सिटी से BSc Microbiology Course करना चाहते हैं, तो आपको एंट्रेंस एग्जाम देना पड़ेगा, हालांकि ज्यादातर कॉलेज में आपके 12वीं कक्षा के मार्क्स देखकर एडमिशन किया जाता है।

कई कॉलेज और यूनिवर्सिटी द्वारा बीएससी माइक्रोबायोलॉजी में प्रवेश के लिए निम्नलिखित परीक्षाएं आयोजित की जाती है।

  • CUET
  • LPUNEST
  • AMUEEE
  • HPU MAT
  • MGU CAT
  • CUCET
  • BHU UET
  • RUET
  • IPU CET

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी कोर्स फीस (BSc Microbiology Fees)

अगर बीएससी माइक्रोबायोलॉजी कोर्स फीस की बात की जाए तो यह सरकारी कॉलेज में कम होती है तथा प्राइवेट कॉलेज या यूनिवर्सिटी में इसके मुकाबले ज्यादा होती है।

अगर आप किसी सरकारी कॉलेज या यूनिवर्सिटी से यह कोर्स करते हैं, तो आपको 20 हजार से लेकर 60 हजार तक की फीस देनी होगी।

अगर आप किसी प्राइवेट कॉलेज या यूनिवर्सिटी से बीएससी माइक्रोबायोलॉजी कोर्स करेंगे तो आपको साल के 50 हजार से लेकर 3 लाख तक की फीस देनी होगी।

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी कॉलेज (BSc Microbiology Colleges)

देश में कई सारे सरकारी कॉलेज और प्राइवेट कॉलेज बीएससी माइक्रोबायोलॉजी कोर्स करवाते हैं।

इसके अलावा आप किसी विदेशी कॉलेज से भी बीएससी माइक्रोबायोलॉजी कर सकते हैं।

सबसे पहले आपको किसी अच्छे सरकारी कॉलेज में एडमिशन लेने की कोशिश करनी चाहिए अगर नहीं होता है, तो किसी जाने-माने प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन लेना चाहिए।

देश के अच्छे और जाने-माने बीएससी माइक्रोबायोलॉजी कॉलेज के नाम कुछ इस प्रकार है –

  • Punjab University, Chandigarh
  • Jaipur National University, Jaipur
  • University of Delhi, New Delhi
  • University of Kolkata, Kolkata
  • Banaras Hindu University, Varanasi
  • Maulana Azad College, Kolkata
  • Fergusson College, Pune
  • St Xaviers College, Mumbai

इसके अलावा कुछ विदेशी कॉलेज भी बीएससी माइक्रोबायोलॉजी कोर्स प्रदान करते हैं, लेकिन वह महंगे होते हैं।

कुछ विदेशी बीएससी माइक्रोबायोलॉजी कॉलेज के नाम कुछ इस प्रकार है –

  • Michigan State University
  • Texas Tech University
  • University College Dublin
  • University of Leeds
  • Heriot-watt University
  • Queen Mary University of London
  • University of Aberdeen

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी सिलेबस (BSc Microbiology Syllabus)

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी 3 साल का कोर्स होता है और यह 6 सेमेस्टर में कंप्लीट होता है तो इसमें सेमेस्टर अलग-अलग विषयों के अध्ययन कराए जाते हैं।

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी में हर एक साल में 2 सेमेस्टर किए जाते है तथा माइक्रोबायोलॉजी सिलेबस निम्नलिखित तरीके से कंप्लीट होता है।

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी 1 सेमेस्टर

  • Microbial Diversity
  • Biostatistics
  • Laboratory
  • Introduction to Biology
  • Microbial Metabolism
  • Enzymology
  • Introduction to Microbiology
  • Introduction to Microbial Diversity

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी 2 सेमेस्टर

  • Biochemistry
  • Microbiology
  • Mathematics
  • Cell Biology
  • Mycology, Phycology
  • DNA Technology
  • Laboratory
  • Bioinformatics

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी 3 सेमेस्टर

  • Virology
  • Microbial Genomics
  • Laboratory
  • Microbial Physiology
  • Microbial Metabolism
  • Infection Immunity and Diagnostics
  • Intellectual Property Rights and Ethical Issues

Also Read: बीएससी आईटी कोर्स क्या है (BSc IT Kya Hai In Hindi) 2023

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी 4 सेमेस्टर

  • Immunology
  • Food Microbiology
  • Microbial Genetics
  • Host-Pathogen Interaction
  • Fermentation Technology
  • Enzyme Technology
  • Food Microbiology
  • Recombinant DNA Technology
  • Environmental Microbiology
  • Waste Management
  • Dissertation
  • Inheritance Biology

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी 5 सेमेस्टर

  • Medical Bacteriology
  • Industrial Microbiology
  • Research Methodology
  • Food and Dairy Microbiology
  • Environmental Microbiology
  • Agriculture Microbiology

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी 6 सेमेस्टर

  • Pharmacology
  • Immunology
  • Medical Microbiology
  • Microbial Technology in Social, Ethical and Legal Issues
  • Parasitology

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी विषय (BSc Microbiology Subjects)

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी करने के लिए आपको कई विषयों का अध्ययन कराया जाता है और इसके विषय कुछ इस प्रकार है।

  • Cell Structure
  • Industrial Microbiology
  • Microbial Physiology
  • Chemistry
  • Immunology
  • BioTechnology
  • Environmental BioTechnology
  • BioPhysics and Instrumentation
  • Molecular Biology
  • Computer Biology and Bioinformatics
  • Microbial Genetics
  • Genetics Engineering
  • BioChemistry
  • Tissue Culture
  • Principles of Transmission Genetics
  • Microbial Technology
  • Medical Microbiology
  • Basic Microscopy and Instrumentation
  • General Microbiology
  • Introduction To Data Structure
  • BioInstrumentation

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी करने के फायदे (BSc Microbiology Karne Ke Fayde)

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी करने के कई फायदे हैं, क्योंकि आज के समय में माइक्रोबायोलॉजी का उपयोग करने से मानव जीवन अस्तित्व में है।

उदाहरण के तौर पर कहे तो जैसे कोरोना के समय माइक्रोबायोलॉजी का उपयोग करके ही उसकी वैक्सीन बनाई गई थी।

इस कारण माइक्रोबायोलॉजिस्ट की मांग धीरे-धीरे बढ़ रही है और आने वाले समय में भी बढ़ती रहेगी इस कारण बीएससी माइक्रोबायोलॉजी करना आपके लिए फायदे का सौदा साबित होगा और आप इसमें अपना कैरियर बना सकते हैं।

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी करने के फायदे निम्नलिखित हैं –

  • इस दुनिया में जैसे-जैसे प्रदूषण बढ़ रहा है, ठीक वैसे ही हमारे चारों ओर बीमारियों का खतरा भी बढ़ रहा है।
  • कई बीमारियां कीटाणु, जीवाणु यानी सूक्ष्म जीवों के कारण फैलती है, तो इसका निवारण माइक्रोबायोलॉजी के द्वारा ही किया जा सकता है, इसी वजह से आने वाले समय में माइक्रोबायोलॉजिस्ट की मांग बढ़ेगी।
  • बीएससी माइक्रोबायोलॉजी का उपयोग जैव प्रौद्योगिकी में भी किया जा सकता है और माइक्रोबायोलॉजी का अध्ययन करके एंजाइम्स, प्रोबायोटिक्स आदि बनाने में सफल हो सकते हैं।
  • पर्यावरण में बढ़ते प्रदूषण, बढ़ते अपशिष्ट आदि को माइक्रोबायोलॉजी के द्वारा कम किया जा सकता है और जीवन स्वस्थ बनाया जा सकता है।
  • माइक्रोबायोलॉजी के अध्ययन से रोगों की पहचान करने, रोगों को रोकने के उपाय और उनकी वैक्सीन या दवाई बनाने मे मदद मिलती है।
  • इन सभी कारणों को पढ़कर आपको समझ आ गया होगा कि आने वाले समय में माइक्रोबायोलॉजिस्ट की मांग बढ़ने वाली है इसीलिए इस क्षेत्र में कैरियर के ऑप्शंस ज्यादा होंगे। माइक्रोबायोलॉजिस्ट बनकर आप किसी बड़ी कंपनी में अच्छी सैलरी की जॉब पा सकते हैं।

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी के बाद क्या करें (BSc Microbiology Ke Baad Kya Kare)

अगर आप भी यह सोच रहे हैं कि बीएससी माइक्रोबायोलॉजी करने के बाद क्या करें तो आपको बता दें कि बीएससी माइक्रोबायोलॉजी के बाद आपके पास कई कैरियर ऑप्शन होंगे। इस वजह से आप किसी बड़ी कंपनी में जॉब कर सकते हैं।

इसके अलावा आप माइक्रोबायोलॉजी में पोस्ट ग्रेजुएशन कर सकते हैं और पीएचडी भी कर सकते हैं। आप माइक्रोबायोलॉजी से जुड़े कई क्षेत्रों में काम कर सकते हैं और किसी गवर्नमेंट कंपनी में भी जॉब कर सकते हैं।

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी करने के बाद आप कई अच्छे कोर्स कर सकते हैं जो आपके कैरियर बनाने में काफी मदद करेंगे। आप निम्नलिखित में से कोई भी कोर्स कर सकते हैं।

  • MSc Genetics
  • MSc Microbiology
  • MSc in Life Science
  • Post Graduate Diploma in Forensic Science
  • MSc BioChemistry

इन कोर्सेज के अलावा भी कई बेहतरीन कोर्सेज जो आपके कैरियर निर्माण में मदद करेंगे। आप अपनी इच्छा के अनुसार कोई भी कोर्स चुन सकते हैं।

FAQs – बीएससी माइक्रोबायोलॉजी क्या है?

माइक्रोबायोलॉजी में किसका अध्ययन किया जाता है?

माइक्रोबायोलॉजी में सूक्ष्मजीवों का अध्ययन किया जाता है और जीव-जंतु, पेड़-पौधों और इंसानों पर इन सूक्ष्मजीवों के अच्छे और बुरे प्रभाव का अध्ययन किया जाता है।

क्या माइक्रोबायोलॉजी में नीट की आवश्यकता है?

जी नहीं ऐसा बिल्कुल नहीं है क्योंकि अगर आप बीएससी माइक्रोबायोलॉजी करना चाहते हैं तो इसके लिए आवश्यक है कि आपने कक्षा 12वीं में फिजिक्स केमिस्ट्री और बायोलॉजी की पढ़ाई की हो तथा इनमें कम से कम 55% मार्क्स आए हो।

माइक्रोबायोलॉजी को पूरा करने में कितने साल लगते हैं?

जैसा कि हमने आपको इस आर्टिकल में बताया है कि बीएससी माइक्रोबायोलॉजी एक 3 साल का अंडर ग्रेजुएट कोर्स होता है इस इस कारण आप माइक्रोबायोलॉजी को 3 साल में कंप्लीट कर सकते हैं।

माइक्रोबायोलॉजिस्ट क्या कर सकता है?

एक माइक्रोबायोलॉजिस्ट का काम सूक्ष्म जीवों का अध्ययन करना होता है। माइक्रोबायोलॉजिस्ट कई सूक्ष्म जीव जैसे बैक्टीरिया, वायरस, प्रोटोजोआ, कवक, शैवाल आदि के ऊपर अध्ययन करता है और इनके प्रभावों की भी जानकारी देता है।

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी के बाद कौन सी नौकरी मिलती है?

अगर आपने बीएससी माइक्रोबायोलॉजी कंप्लीट कर ली है, तो आप निम्नलिखित BSc MicrobiologyJobs कर सकते हैं।

  • Bacteriologist
  • Biochemist
  • Mycologist
  • Biomedical Scientist
  • Cell Biologist
  • Microbiologist
  • BioTechnologist
  • Researcher and scientist

इसके अलावा भी कई नौकरियां है, जो बीएससी माइक्रोबायोलॉजी करने के बाद आपको मिल सकती है और आप किसी बड़ी कंपनी या गवर्नमेंट कंपनी में भी जॉब कर सकते हैं।

निष्कर्षबीएससी माइक्रोबायोलॉजी क्या है?

बीएससी माइक्रोबायोलॉजी के बारे में सारी जानकारी हमने इस आर्टिकल में दी है।

इसके अलावा माइक्रोबायोलॉजी से जुड़ी हर बात आपको बताई गई है, यह आर्टिकल पढ़कर आप बीएससी माइक्रोबायोलॉजी क्या है? BSc Microbiology Course Details In Hindi, BSc Microbiology Course Kaise Kare In Hindi के बारे में समझ गए होंगे।

अगर आप पर बीएससी माइक्रोबायोलॉजी करना चाहते हैं, तो आपको इस आर्टिकल से काफी मदद मिली होगी। फिर भी अगर आपका कोई सवाल है तो आप हमसे पूछ सकते हैं।

Telegram Group (Join Now) Join Now
WhatsApp channel (Join Now) Join Now

Leave a Comment