स्वदेशी मोबाइल ब्रांड बनाने की तैयारी में भारत सरकार, आईटी मंत्री वैष्णव ने किया प्लान का खुलासा

Telegram Group (Join Now) Join Now
WhatsApp channel (Join Now) Join Now

Indian Mobile Brand PhonePe Indus AppStore: भारत के आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बुधवार को एक बड़ी घोषणा की है कि देश में मोबाइल निर्माण की सफलता को देखते हुए भारत सरकार भारत का स्वयं का मोबाइल फोन ब्रांड लॉन्च करने की तैयारी कर रही है। 

Indian Mobile Brand PhonePe Indus AppStore

मंत्री वैष्णव ने यह घोषणा ऑनलाइन पेमेंट सर्विस प्रोवाइडर PhonePe के Indus App Store की लॉन्चिंग के मौके पर की। जानकारी के लिए बता दें की इंडस ऐप स्टोर एक नया एंड्रॉयड बेस्ड मोबाइल एप्लीकेशन स्टोर है जहां करीब 2 लाख एप्स मौजूद हैं। यह ऐप स्टोर कुल 12 भारतीय भाषाओं के साथ पेश किया गया है और सबसे अच्छी बात यह है कि इस स्टोर पर 1 अप्रैल 2025 तक कोई लिस्टिंग फीस नहीं ली जाएगी।

मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग में शुरुआती सफलता से मिली प्रेरणा

केंद्रिय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने इस अवसर पर यह कहा कि, “हम अपना खुद का भारतीय मोबाइल फोन ब्रांड विकसित करने की दिशा में काम करेंगे। हम देश में संपूर्ण हैंडसेट इकोसिस्टम बनाने पर भी काम करेंगे।

गौरतलब है कि विदेशी मोबाइल ब्रांड्स भारत में बड़े पैमाने पर मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग करते हैं और इसी से प्रेरणा लेकर भारत सरकार ने स्वदेशी मोबाइल ब्रांड विकसित करने की योजना पर विचार किया है। मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग की क्षमता को देखते हुए हैंडसेट इकोसिस्टम भागीदारों को भारत आने के लिए प्रोत्साहित किया है।  

पीएम मोदी की तरफ से मिल रहा पुरजोर समर्थन

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सदैव ‘Make in India’ पर जोर देते आएं हैं और इसलिए वे स्वदेशी मोबाइल ब्रांड को विकसित करने के लिए पुरजोर समर्थन दे रहे हैं। प्रधानमंत्री ने भारत के सेमीकंडक्टर पारिस्थितिकी तंत्र के विकास के लिए अपना सकारात्मक पक्ष रखा है। 

वैष्णव के अनुसार भारत अपना सेमीकंडक्टर मिशन आरंभ कर चुका है और इस दिशा में बड़ी सफलता भी मिल रही है और भारत में माइक्रोन संयंत्र बनाने की प्रक्रिया भी शुरु हो चुकी है।

उच्च मात्रा वाले फैब्रिकेशन संयंत्रों की स्थापना पर होगा फोकस

अश्विनी वैष्णव ने बताया कि उच्च मात्रा वाले फैब्रिकेशन संयंत्रों की तेजी से स्थापना करने के लिए जल्दी ही दो या तीन स्वीकृतियां भी देखने को मिलेगी। भारत सरकार अगले पांच सालों में तीन से चार उत्कृट फैब्रिकेशन संयंत्रों का निर्माण करने के लिए कार्य कर रही है।

Telegram Group (Join Now) Join Now
WhatsApp channel (Join Now) Join Now

Leave a Comment