नायब तहसीलदार के अधिकार क्या होते हैं? (NAIB Tehsildar Ke Adhikar Kya Hote Hain)

Telegram Group (Join Now) Join Now
WhatsApp channel (Join Now) Join Now

नायब तहसीलदार के अधिकार क्या होते हैं? (Naib Tehsildar Ke Adhikar Kya Hote Hain) | नायाब तहसीलदार कौन होता है | नायब तहसीलदार के अधिकार और कार्य क्या होते हैं | नायब तहसीलदार की सैलरी कितनी होती है | नायब तहसीलदार को दी जाने वाली अन्य सुविधाएं | नायब तहसीलदार की जॉब प्रोफाइल | नायब तहसीलदार का प्रमोशन |

कभी ना कभी हर इंसान को नायब तहसीलदार से कुछ ना कुछ काम पड़ता है, यह एक सामान्य पद है, राजस्व से संबंधित कार्यों को करवाने के लिए हमें नायब तहसीलदार की आवश्यकता होती है, यदि आपको भी इन पदों पर नौकरी चाहिए तो आपको इसके बारे में पूरी जानकारी होना आवश्यक है, साथ ही एक महत्वपूर्ण जानकारी यह भी होती है कि नायब तहसीलदार के अधिकार क्या है।

तो आज नायब तहसीलदार के अधिकारों के बारे में ही जानेंगे, इसके साथ ही इससे जुड़ी कई अन्य बातों के बारे में भी जानेंगे, इसलिए आज के इस आर्टिकल को बड़े ही ध्यानपूर्वक पढ़ें और हमारे साथ अंत तक बने हैं।

नायब तहसीलदार के अधिकार क्या होते हैं? (NAIB Tehsildar Ke Adhikar Kya Hote Hain)

नायब तहसीलदार कौन होता है?

नायब तहसीलदार भारतीय प्रशासनिक व्यवस्था के तहत जिले की तहसील में तहसीलदार के समान ही मजिस्ट्रेट और राजस्व के कर्तव्यों का निर्वहन करने वाला होता है, नायब तहसीलदार ग्रेड 2 की शक्तियों का मालिक होता है, एक नायब तहसीलदार राजस्व के मामलों में तहसीलदार की ही तरह सहायक कलेक्टर होता है, नायब तहसीलदार को अपने क्षेत्र में बड़े पैमाने पर दौरा करना पड़ता है, इसके साथ ही नया तहसील द्वारा ही राजस्व रिकॉर्ड और फसल के आंकड़े भी तैयार किए जाते हैं,

Also Read: तहसीलदार और नायब तहसीलदार में अंतर क्या है?

अब हम नायब तहसीलदार के अधिकारों और कार्यों के बारे में बात करते हैं,

नायब तहसीलदार के अधिकार क्या होते हैं? (Naib Tehsildar Ke Adhikar Kya Hote Hain)

यदि बात करें नायब तहसीलदार के अधिकार और कार्य के बारे में तो नायब तहसीलदार के लिए राज्य सरकार द्वारा कई सारे अधिकार वा कार्य निर्धारित किए गए हैं,

  • निरीक्षण अधिकारियों द्वारा रजिस्टर कानूनगो के कार्यालय के निरीक्षण के दौरान point out की गई कर्मियों को तुरंत दूर करना।
  • वह तहसीलदार के साथ लेखपाल अभिलेखों के परीक्षण के उद्देश्य के दौरे पर जाने की व्यवस्था करेंगे, जिसमें भू अभिलेख नियमावली के अनुच्छेद 613 से 618 की ओर विशेष रूप से ध्यान आकर्षित किया गया है।
  • लेखापालो और पर्यवेक्षक कानों की रिपोर्ट प्राप्त करना और तहसीलदार के माध्यम से भू अभिलेख से जुड़े किसी भी बिंदु पर रिपोर्ट करना, जिसके लिए अनुविभागियों अधिकारी के आदेश की आवश्यकता होती है।
  • इन पर जिम्मेदारी होती है कि रजिस्टर और रसीद बुक ठीक से रखा गया है या नहीं इस प्रयोग के लिए वह अमीन के खातों का परीक्षण और तुलना करेगा और दौड़े के दौरान इसकी कार्यवाही की जांच करना शामिल है।
  • भूमि राजस्व और सरकार को देय अन्य बकाया राशि का संग्रह करना।
  • फुटपाथ, सड़कों, तटबंधो, नालियों के निष्पादन और निर्माण में सहायता करना।
  • खाता पुस्तकों में परिवेश्तियों में सुधार करना।
  • सरकारी चुट या निलंबन सियोनोफलैंड राजस्व की सिफारिश करना।
  • विधानसभा के चुनाव के लिए, तहसील के आने वाले निर्वाचन क्षेत्र/निर्वाचन क्षेत्र के लिए सहायक रिटर्निंग अधिकारी के रूप में कार्य करना।
  • उन लोगों को राहत प्रदान करना जो की बाढ़ से पीडत है।
  • विवादों को सुलझाने के लिए अदालतों में बैठना।
  • अपने उच्च अधिकारी को भूमि से संबंधित विवादों के निर्णय हेतु अवगत करना।
  • क्षेत्र का दौरा करके फसलों की स्थिति और मौसमी स्थितियां का निरीक्षण करना।
  • किसने की समस्याओं को सुनना और ऋण वितरण करने के लिए क्षेत्र का दौरा करना।
  • विकास के योजनाओं को लागू करने में सहायता करना।
  • मिट्टी संरक्षण और सुधार में सहायता करना।
  • अधीनस्थ राजस्व कर्मचारीयों के संपर्क में रहना।

तो अब हम नायब तहसीलदार की सैलरी के बारे में जानते हैं,

नायब तहसीलदार की सैलरी कितनी होती है?

यदि बात करें नायब तहसीलदार की सैलरी की तो वेतन कर्मचारियों को दिया जाने वाला मूल वेतन 10300 से लेकर 34800 तक का होता है, इसके साथ ही उन्हें सरकार के नियम के अनुसार अन्य भत्ते शामिल होते हैं, इसमें उन्हें ग्रास वेतन, मूल वेतन, कटौती और अन्य भत्ते दिए जाते हैं।

तो अब हम नायब तहसीलदार को दी जाने वाली अन्य सुविधाओं के बारे में जानेंगे,

नायब तहसीलदार को दी जाने वाली अन्य सुविधाएं?

यदि बात करें नायब तहसीलदार को दी जाने वाली सुविधाओं की तो नायब तहसीलदार को कई प्रकार की सुविधा प्रदान की जाती है, जैसे की चुने गए उम्मीदवारों को प्रोबेशन पीरियड के सफल समापन पर मूल वेतन के अलावा अन्य भत्ता और लाभ प्रदान किए जाते हैं।

नया तहसीलदार के पदों पर आवेदन करने से पहले जॉब प्रोफाइल का पूरा विवरण जान ना अच्छा होता है, जो भी उम्मीदवार इस पद के लिए आवेदन करना चाहते हैं वह पहले पर आवेदन कर रहे हैं तो आपको नौकरी की प्रकृति से सहज है या उससे शॉपे गए कार्यों को पूरा करने की जिम्मेदारी लेने के योग्य हैं, भू राजस्व कुमार सरकार को देय दे राशि आपके संग्रह के लिए राजस्व के लिए ज़िम्मेदार हैं।

Also Read: तहसील का सबसे बड़ा अधिकारी कौन होता है?, जानिए उनकी महत्वपूर्ण भूमिका (Tehsil Ka Sabse Bada Adhikari Kaun Hota Hai) 2023

तो अब हम नायब तहसीलदार की जॉब प्रोफाइल के बारे में जानेंगे,

नायब तहसीलदार की जॉब प्रोफाइल?

यदि बात की जाए नया तहसीलदार के जॉब प्रोफाइल की तो इन पदों पर आवेदन करने से पहले उम्मीदवार को जॉब प्रोफाइल के पूरे विवरण की जानकारी होना अनिवार्य है, जो भी रोजगार कर रहे हैं उन सभी उम्मीदवारों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वह नौकरी की प्रकृति से सहज है और वे सोप हुए कार्य को पूरा करने के योग्य है, एक नया तहसीलदार का कार्यों अपने क्षेत्र में दौरा करना भी होता है।

नायब तहसीलदार की प्राथमिक और अंतिम जिम्मेदारी राजस्व संग्रह बैठने की होती है, नायब तहसीलदार राजस्व रिकॉर्ड और फसल के आंकड़ों को बनाए रखना के लिए जिम्मेदार होता है, साथ में भू राजस्व और सरकार को दे अन्य देय राशि के संग्रह के लिए राजस्व के लिए जिम्मेदार है।

तो अब हम नायब तहसीलदार के प्रमोशन के बारे में बात करते हैं,

नायब तहसीलदार का प्रमोशन?

एक नया तहसीलदार को उसके करियर में प्रमोशन दी जाती है, जो उम्मीदवार इन पदों के लिए नियुक्त किए गए हैं, वह उम्मीदवार पद उन्नति की और प्रमोशन की उम्मीद रख सकते हैं, पंजाब तहसीलदारों को नियमित स्टाफ के रूप में नियुक्त किया जाता है और उन्हें उनके करियर में प्रमोशन भी दी जाती है।

FAQs | नायब तहसीलदार के अधिकार क्या होते हैं? (Naib Tehsildar Ke Adhikar Kya Hote Hain)

यदि आपको नायब तहसीलदार के अधिकारों के बारे में दी गई ऊपर की जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इससे जुड़े प्रश्न उत्तर पढ़ सकते हैं जो की निम्नलिखित है,

#1. नायब तहसीलदार को क्या सुविधा मिलती है?

एक नयाब तहसीलदार को कई प्रकार की सुविधा सरकार की ओर से प्रदान की जाती हैं, जिसमे उन्हें यात्रा भत्ता, महंगाई भत्ता, मेडिकल भत्ता, मकान किराया भत्ता आदि सुविधा दी जाती है।

#2. तहसीलदार का प्रमोशन कैसे होता है?

एक तहसीलदार को 8 साल से लेकर 15 साल तक के समय में प्रमोशन दिया जाता है, जिसके बाद वह उप जिला मजिस्ट्रेट यानी कि एसडीएम के पद पर प्रमोट किया जाता है। इसके बाद कुछ साल एसडीएम के पद पर काम करने के बाद इनका प्रमोशन डीएम के रूप में किया जाता है।

निष्कर्ष | नायब तहसीलदार के अधिकार क्या होते हैं? (Naib Tehsildar Ke Adhikar Kya Hote Hain)

आज के इस आर्टिकल में हमने नायब तहसीलदार के अधिकार क्या होते हैं इसके बारे में जाना। इसके साथ ही हमने नायब तहसीलदार से जुड़ी कई अन्य जानकारी के बारे में भी जाना।

हमने नायब तहसीलदार कौन होता है इसके बारे में जाना, साथ ही उसके कार्य और अधिकारों के बारे में भी जाना, इसके अलावा हमने उसकी सैलरी और दी जाने वाली अन्य सुविधाओं के बारे में भी जाना और इसकी जॉब प्रोफाइल और प्रमोशन के बारे में भी जानकारी प्राप्त की। उम्मीद है आज का आर्टिकल आपको पसंद आया होगा, यदि इस आर्टिकल से जुड़े आपका मन में कोई प्रश्न है तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर बता सकते हैं।

Telegram Group (Join Now) Join Now
WhatsApp channel (Join Now) Join Now

Leave a Comment