एसडीएम के कार्य क्या होते हैं: विस्तार से जानें (SDM ke karya kya hote Hain)

Telegram Group (Join Now) Join Now
WhatsApp channel (Join Now) Join Now

एसडीएम के कार्य क्या होते हैं? (SDM ke karya kya hote Hain) | एसडीम कौन होता है | एसडीएम को मिलने वाली सुविधाएं क्या है | एसडीएम की सैलरी कितनी होती है | एसडीएम की योग्यताएं क्या है |

बचपन से ही हम सभी का एक सपना होता है, हम सभी अपने जीवन में कुछ ना कुछ बनना चाहते हैं कोई डॉक्टर बनना चाहता है तो कोई इंजीनियर बनना चाहता है ऐसे में जो उम्मीदवार एसडीएम यानी की सब डिवीजन मजिस्ट्रेट बनने की चाह रखते हैं, उन्हें उसके बारे में पूरी जानकारी होना आवश्यक है, एसडीम के बारे में एक मुख्य जानकारी यह भी होती है कि एसडीएम के कार्य क्या होते हैं।

तो आज हम एसडीएम के कार्य क्या होते हैं इसके बारे में जानेंगे, इसके साथ ही इससे जुड़े कई अन्य बातों के बारे में भी जानेंगे, इसलिए आज के इस आर्टिकल को बड़े ही ध्यानपूर्वक पड़े और हमारे साथ अंत तक बन रहे।

तो यदि हम एसडीएम के कार्य के बारे में बात कर रहे हैं तो इससे पहले हमें यह जानना होगा कि एसडीएम होता कौन है।

एसडीम कौन होता है?

एसडीएम का फुल फॉर्म सब डिविजनल मजिस्ट्रेट होता है, एसडीएम अर्थात सब डिविजनल मजिस्ट्रेट का पद एक प्रशासनिक पद है,एसडीएम एक सब डिवीजन यानी की तहसील के प्रमुख के रूप में कार्य करता है, इसके साथ ही उसके क्षेत्र में कानून और व्यवस्था बनी रहे यह जिम्मेदारी भी उसकी होती है‌, इसके साथ ही इन्हें कानून में पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री रखना अनिवार्य होता है, एसडीएम को आमतौर पर राज्य या स्थानीय सरकार के द्वारा नियुक्त किया जाता है, एक एसडीएम जिले के सभी जमीन, किसान, पुलिसकर्मी और अन्य राजस्व कार्य से संबंधित व्यक्तियों की जानकारी डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट तक पहुंच जाता है।

तो अब बात करते हैं एसडीएम के कार्यों के बारे में,

एसडीएम के कार्य क्या होते हैं: विस्तार से जानें (SDM ke karya kya hote Hain)

एसडीएम के कार्य क्या होते हैं? (SDM ke karya kya hote Hain)

सामान्य रूप से एसडीएम के कई सारे कार्य होते हैं, जो कि नीचे निम्नलिखित है, तो चलिए देखते हैं।

  • एक एसडीएम अर्थात सब डिवीजन मजिस्ट्रेट भारत में अपने क्षेत्र वाले जिले के राजस्व प्रशासन में एक सीनियर प्रशासनिक और कानूनी अधिकारी के रूप में काम करता है।
  • एसडीएम एक महत्वपूर्ण प्रशासनिक अधिकारी के रूप में कार्य करता है, इसलिए उसके पास कानून से संबंधित विभिन्न शक्तियां होती हैं-जैसे की कुछ अपराधों के लिए बिना वारंट के गिरफ्तारी और सार्वजनिक उपद्रव की रोकथाम से लेकर पानी की आपूर्ति जैसे आवश्यक की नागरिक सुविधाओं के प्रावधान की निगरानी।
  • लोगों के विवादों में सार्वजनिक सुनवाई और मध्यस्थता के माध्यम से नागरिकों के लिए सहायक सेवाएं प्रदान करने के अलावा, एसडीएम आगे की जांच के लिए दुर्घटनाओं या दुर्घटना जांच की जांच भी कर सकता है।
  • एक एसडीएम के मुख्य जिम्मेदारी कानून को लागू करना, समस्याओं का समाधान करना, विकास कार्यों की निगरानी करना, व्यवस्था बनाए रखना, स्थानीय विवादों को निष्पक्ष और कुशलता से हल करना, सीधे राहत अभियान चलाना, नागरिकों के अधिकारों की सुरक्षा सुनिश्चित करना।
  • किसी भी प्रकार के देंगे और प्रसाद के बारे में सरकार को जानकारी एसडीएम के द्वारा ही दी जाती है।
  • एक एसडीएम का कार्य वोटिंग को निरपक्ष रूप से संचालित करवाना होता है।

तो अब हम एसडीएम को मिलने वाली सुविधाओं के बारे में जानते हैं,

एसडीएम को मिलने वाली सुविधाएं क्या है?

यदि बात की जाए एसडीएम को मिलने वाली सुविधाओं की तो एसडीएम को उनकी सैलरी के अलावा कई सारी सुविधाएं प्रदान की जाती है।

एक एसडीएम को घरेलू नौकर और सुरक्षाकर्मी सरकार के द्वारा प्रदान किया जाता है, इसके साथ ही सरकार की तरफ से उसे एक सरकारी गाड़ी, मुफ्त बिजली, टेलीफोन कनेक्शन और राज्य में प्रोफेशनल यात्राओं के दौरान आवास की सुविधा प्रदान की जाती है, केवल इतना ही नहीं एसडीएम को अध्ययन के लिए छुट्टी और रिटायरमेंट के बाद पेंशन आदि की भी सुविधा प्रदान की जाती है।

संपूर्ण विवरण के लिए: एसडीएम को मिलने वाली सुविधाएं (SDM Ko Milne Wali Suvidhaye)

तो अब हम एसडीएम की सैलरी के बारे में जानते हैं,

एसडीएम की सैलरी कितनी होती है?

एक एसडीएम का मासिक वेतन 56100 से लेकर 170000 तक का हो सकता है, एक एसडीएम को शुरुआत में 56000 की सैलरी दी जाती है, उसके बाद जैसे-जैसे उसका अनुभव बढ़ता जाता है वैसे-वैसे उसकी सैलरी भी बढ़ा दी जाती है, इसके साथ ही एक एसडीएम अधिकारी की सैलरी उसके राज्य पर भी निर्भर करती है।

तो अब हम एसडीएम की योग्यताओं के बारे में जानते हैं,

एसडीएम की योग्यताएं क्या है?

यदि बात की जाए एसडीएम की योग्यताओं की तो एसडीएम अर्थात सब डिवीजन मजिस्ट्रेट बने की इच्छा रखने वाले उम्मीदवारों के लिए राज्य सरकार द्वारा निर्धारित एजुकेशनल और क्रमशिला आवश्यकताओं की पूर्ति करना आवश्यक है,

  • सामान्य रूप से एसडीएम अधिकारी बनने के इच्छुक उम्मीदवारों को सबसे पहले किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज से अपने स्नातक की डिग्री लेना आवश्यक है।
  • एक एसडीएम अधिकारी बनने के लिए उम्मीदवारों को यूपीएससी द्वारा आयोजित परीक्षा देनी होती है, इसके साथ ही इस परीक्षा में बैठने के लिए आपकी न्यूनतम आयु 21 वर्ष होना आवश्यक है।
  •  इसके साथ ही उम्मीदवार के पास एक अच्छी कम्युनिकेशन स्किल का होना अनिवार्य है और इसके साथ ही कई तरह के अन्य कौशल का होने आवश्यक है।
  • भूतपूर्व सैनिक और दिव्यांगों के लिए उम्र सीमा अधिक होती है।
  • यूपीएससी का एग्जाम देने के लिए आपकी आयु वर्ग सीमा पर निर्भर करती है, सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों के लिए अधिकतम आयु 32 वर्ष है, वही ओबीसी वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 35 वर्ष और एससी/एसटी वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 37 वर्ष निर्धारित की गई है।  

FAQs | एसडीएम के कार्य क्या होते हैं? (SDM ke karya kya hote Hain)

#1. SDM पद क्या होता है?

एक जिला अधिकारी के बाद जो सबसे बड़ी पद होती है वह एसडीएम अर्थात सब डिविजनल मजिस्ट्रेट की ही होती है, इसका मतलब यह है कि एसडीएम दूसरे नंबर का सबसे बड़ा पद होता है, एसडीएम डीएम के नीचे आते हैं और इनका पावर डीएम से कम होता है।

#2. SDM बनने के लिए कौन सी परीक्षा देनी पड़ती है?

एसडीएम बनने के लिए यूपीएससी यानी सिविल सेवा परीक्षा देनी होती है, सामान्य रूप से भारत में एसडीम का चयन संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित सिविल सर्विस परीक्षा के माध्यम से होता है, इस परीक्षा को प्रतिवर्ष आयोजित किया जाता है।

#3.एसडीएम का कितना पावर होता है?

एक एसडीएम को कई सारे पावर दिए जाते हैं, जैसे की – राजस्व कार्य, चुनाव आधारित कार्य, ड्राइविंग लाइसेंस का नवीनीकरण करना और उसे जारी करना, गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन करना, विवाह पंजीकरण, शस्त्र लाइसेंस का नवीनीकरण और उसे जारी करना।

Also Read: एसडीओ और एसडीएम के बीच का अंतर (SDO and SDM Difference in Hindi)

निष्कर्षक्ष | एसडीएम के कार्य क्या होते हैं? (SDM ke karya kya hote Hain)

आज के इस आर्टिकल में हमने एसडीएम के कार्य क्या होते हैं इसके बारे में जाना, इसके साथ ही हमने एसडीएम से जुड़ी कई अन्य बातों के बारे में भी जाना।

हमने एसडीम कौन होता है इसके बारे में बात की और साथ ही एसडीएम को मिलने वाली सुविधाओं और वेतन के बारे में जानकारी प्राप्त की, इसके अलावा हमने एसडीम की योग्यताएं क्या है इसके बारे में भी जाना।

उम्मीद है आज का यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा, यदि इस आर्टिकल से संबंधित आपके मन में कोई प्रश्न है तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर बता सकते हैं।

Telegram Group (Join Now) Join Now
WhatsApp channel (Join Now) Join Now

Leave a Comment